Now Reading
सर्दी-खांसी से निपटने के लिए 5 घरेलू उपचार

सर्दी-खांसी से निपटने के लिए 5 घरेलू उपचार

  • जानिए ऐसी रेसिपी जो आप आसानी से घर पर बना सकते हैं
4 MINS READ

सर्दियों के मौसम में सर्दी-खांसी होना बहुत ही आम बात होती है। फिर भी अधिकांश लोग थोड़ी सी तकलीफ होने पर तुरंत दवा लेने लगते हैं। आपको बता दें, हर छोटी- छोटी समस्या में तुरंत दवा लेना आपके इम्यून सिस्टम को कमज़ोर बनाता है और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमज़ोर होती है। इसलिए अगली बार दवा लेने की बजाय प्राकृतिक चीजों से बने ज़ायकों का प्रयोग करें, ताकि सेहत भी सुधरे और बरकत भी बनी रहे।

गुड़, हल्दी, अदरक से बने लड्डू

लड्डू
घरेलू उपचार के लिए सबसे फायदेमंद |इमेज : फाइल इमेज
सामग्री
  • 4 चम्मच सूखा अदरक पाउडर
  • 1 चम्मच हल्दी पाउडर
  • 4 चम्मच महीन गुड़
  • 4 चम्मच घी
विधि-  
  • सबसे पहले अदरक और हल्दी पाउडर को एक कटोरे में मिलाएं। उसके बाद इसमें गुड़ डाले और मिलाएं।
  • अब पूरे मिश्रण में हल्का घी डाल कर हाथ से गूंद लें,  जब तक नरम न हो जाये।
  • अब छोटे-छोटे लड्डू बनाएं और सर्व करें। बचे हुए लड्डूओं को एयरटाइट डिब्बे में रखें।

फायदे पोषक तत्त्वों से भरपूर ये लड्डू सर्दियों में आपकी सेहत के लिए वरदान की तरह है। हल्दी में पाए जाने वाले न्यूट्रिशन जैसे- आयरन, विटामिन बी6, सी, मैगनीज़ तथा अदरक में पाया जाना वाला कॉपर आदि सभी मिलकर आपके शरीर को सेहतमंद बनाते हैं।

बाजरा राब

बाजरा राब
सर्दियों में पेट के पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है | इमेज : फाइल इमेज
सामग्री
  • 2 चम्मच घी
  • एक चम्मच अजवाइन
  • 2 चम्मच महीन गुड़
  • 1 चम्मच सूखा अदरक पाउडर
  • एक चौथाई कप बाजरा का आटा
विधि 
  • सबसे पहले एक पैन में घी को गर्म करें फिर इसमें अजवाइन डालें। जब यह हल्की भुन जाये तब बाजरे का आटा डालें और 2 से 3 मिनट तक भूने।
  • अब इसमें गुड़, अदरक पाउडर और 2 कप पानी मिलाएं और अच्छे से तब तक मिश्रित करें जब तक गुड़ घुल न जाये।
  • अब राब को 5 मिनट तक मध्यम आंच में उबालें और फिर सर्व करें।

फायदेये परम्परागत ज़ायका पूरी तरह से इम्युनिटी बूस्टर है। इसमें उपयोग किया जाने वाला अजवाइन बैक्टीरिया से सुरक्षा करता है और सर्दियों में पेट के पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है।

See Also

सर्दियों के लिए काढ़ा

सामग्री
  • 2 छोटी चम्मच काली मिर्च और लोंग का पाउडर
  • 4 पीस हरी इलायची
  • 1 चम्मच कसा हुआ अदरक
  • 2 इंच दालचीनी
  • 2 चम्मच शहद
  • एक चौथाई कप तुलसी और मोरिंगा के पत्ते।
विधि
  • पहले 4 कप पानी को तेज आंच में गर्म करें और सभी चीजों को मिला दें।
  • अब इस मिश्रण को मध्यम आंच में तब तक गर्म करें जब तक पानी आधा न हो जाये।
  • इसे गैस बंद करके 10 मिनट के लिए ढक कर छोड़ दें
  • इस काढ़े को गरम-गरम दिन में 2 -3 बार सर्व करें।

फायदे- भारतीय मसालों को अपने औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर यह काढ़ा आपके इम्यून सिस्टम की रक्षा करता है और सर्दी जुकाम से दूर रखता है।

आटा के शीरा

आटा शीरा
स्वाद और सेहत है इस आटा शीरा में | इमेज : फाइल इमेज
सामग्री
  • 1 कप शक्कर
  • 4 कप पानी
  • 1 कप घी
  • 1 कप गेहूं का आटा
विधि
  • सबसे पहले एक पैन में चीनी और पानी को मिलाकर मध्यम आंच में पकाएं ताकि शीरा तैयार हो जाये।
  • अब घी को गर्म करें और इसमें आटा डालकर भूनें, जब तक उसका सुनहरा रंग न हो जाये।
  • अब शीरा को इस आटा के साथ मिलाएं और दोनों को तब तक चलाएं जब तक ये सारा मिश्रण गाढ़ा होकर हलुवा जैसा न बन जाये। तत्पश्चात परोसें।

फायदेजहां आटा कार्बोहाइड्रेट प्रदान करता है वही घी अच्छा वसा और दूसरे तत्त्व प्रदान करता है। इस तरह सर्दियों के लिहाज से यह रेसिपी ज़रूर काफी फायदेमंद है।

नींबू- धनिया का सूप

आयुर्वेदिक सूप
आयुर्वेदिक सूप आपके गले की खराश और अन्य चीज़ों में फायदेमंद | इमेज : फाइल इमेज
सामग्री
  • 1 चम्मच सब्जी बनाने वाला तेल
  • 1 कटी हुई मिर्ची
  • 1 चम्मच कसा हुआ अदरक
  • 2 चम्मच बारीक कटी गाजर
  • आधा कप बारीक कटी बंदगोभी
  • एक चौथाई कप कटी हुई हरी धनिया
  • 1 छोटी चम्मच काली मिर्च पाउडर और हल्दी पाउडर
  • 2 चम्मच नींबू रस
  • 4 कप पानी
  • आधा कप पानी में घुला हुआ 1 चम्मच मक्के का आटा
विधि
  • एक पैन में 1 चम्मच तेल डाल कर मिर्ची और अदरक भूनें। अब गाजर, बंदगोभी और धनिया मिलाएं और 2-3 मिनट तक चलाएं।
  • अब इसमें कालीमिर्च, हल्दी और नींबू का रस और पानी मिलाएं।
  • सभी को अच्छी तरह मिक्स करके उबालें।
  • इसके बाद मक्के का आटा और स्वाद के अनुसार नमक डालें और 2-3 मिनट तक पकाएं।
  • अब इसे गरमा-गरम परोसें।

फायदे-  यह आयुर्वेदिक सूप आपके गले की ख़राश और दूसरे परेशानियों को दूर करता है। विटामिन ए, सी और के से भरपूर यह सूप फ्लू, बुखार आदि समस्यायों से भी निजात दिलाता है।

आयुर्वेदिक तत्वों की अपनी महानता होती है। ऊपर दी गई रेसिपी भी पूरी तरह आयुर्वेदिक हैं, अगर आप इन चीजों का सेवन करते हैं तो निश्चित ही आपको सर्दी खांसी के लिए किसी प्रकार की दवाई खाने की ज़रूरत नहीं होगी और शरीर भी हष्ट-पुष्ट होगा।

डॉ. दीपाली कंपानी सेहत और खाने से जुड़े लेखन की विशेषज्ञ है।

और भी पढ़िये : जीवन में कर्म के 12 नियम

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्राम और  टेलीग्राम  पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
0
बहुत अच्छा
0
खुश
0
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

©️2018 JETSYNTHESYS PVT. LTD. ALL RIGHTS RESERVED.