Now Reading
प्यार और समर्पण की जीती जागती मिसाल “माँ”

प्यार और समर्पण की जीती जागती मिसाल “माँ”

प्यार और समर्पण की जीती जागती मिसाल “माँ”
3 MINS READ

“माँ“ शब्द में ही अथाह प्रेम और समर्पण की भावना छुपी हुर्ई है। माँ, दुनिया के हर बच्चे के लिए सबसे खास सबसे प्यारा रिश्ता है। माँ वह ताकत है जिसे किसी भी मुसीबत में हम सबसे पहले पुकारते हैं। बिना माँ के हमारे अस्तित्व की कल्पना करना नामुमकिन है। इस दुनिया में माँ सबसे आसान शब्द है मगर इस नाम में भगवान खुद वास करते है।

माँ शब्द की कोई सीमित परिभाषा नहीं है

यह एक अनुभूति, एक विश्वास, एक रिश्ता, खुली किताब, अपनापन, गर्भ में अबोली नाजुक आहट से लेकर नवागत के गुलाबी अवतरण तक, मासूम किलकारियों से लेकर कड़वे निर्मम बोलों तक आंगन की फुदकन से लेकर नीड़ से सरसराते हुए उड़ जाने तक , मातृत्व की कितनी परिभाषाएं रचती हैं। माँ एक आशा की किरण है, जिसकी कोई परिभाषा सीमित नहीं है।

ऐसी होती है – माँ

जब नवजात शिशु इस दुनिया में आता है तो सबसे ज्यादा खुशी नवजात की माँ को होती है। यह उस मां के लिए जीवन का सबसे अहम पल और एहसास होता है। माँ अपने बच्चों के लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहती है। मनुष्य हो या कोई भी जीव जंतु, मां का किरदार नहीं बदलता। वो मां ही होती है जो अपने बच्चे पर किसी प्रकार की आंच आने से पहले खुद आगे आ जाती है। माँ अपने बच्चों के भविष्य के लिए सबसे ज्यादा चिंतित होती है और माँ से ज्यादा कोई बच्चे को प्यार नहीं करता है। मगर जब पता चलता है की बच्चा गलत रास्ते पर चल रहा है तो माँ एक गुरु की तरह उसे अपने पास बुला कर समझाती है और जरूरत पड़ने पर उसे फटकार भी लगा देती है। माँ बच्चों के हर दुख-सुख में साथ रहती है और उनका साथ देती है। माँ से बढ़ कर इस दुनिया में कोई नहीं होता है और यदि माँ न हो तो ये दुनिया एक सूखे रेगिस्तान के बराबर है।

See Also

प्यार और समर्पण की जीती जागती मिसाल “माँ”
‘माँ’ में समाई है, पुरी दुनिया  | इमेज: फाइल इमेज

कैसे शुरु हुई मदर्स डे की शुरुआत

साल 1908 में अमेरिकन एक्टिविस्ट एना जार्विस ने मदर्स डे की शुरुआत की थी। अमेरिका के वेस्ट वर्जीनिया में पहली बार मदर्स डे मनाया गया था। एना ने ना कभी शादी की और न उनका कोई बच्चा था। अपनी माँ की मौत के बाद एना ने माँ के समर्पण और उसे सम्मान देने के लिए इस दिन की शुरुआत की, जिसके बाद धीरे-धीरे ये कई देशों में मनाया जाने लगा।

मदर्स डे पर ऐसे करें अपनी माँ को विश

माँ अपने बच्चों को बेपनाह प्यार करती है उसी तरह बच्चे भी अपनी माँ से बेहद प्यार करते हैं व उन्हें सम्मान देते है। लेकिन इस दिन को आप अपनी माँ के लिए बेहद खास बना सकते हैं। नीचे दिए कुछ टिप्स से आप अपनी माँ को इस ‘मदर्स डे’ पर ऐसे विश करें-

-आज का दिन बहुत खास है आप इसे और खास बनाने के लिए पहले से ही एक वीडियो बना सकते है। जिसमें आप सभी लोग अपनी माँ के साथ गुजारे सबसे अच्छे पल और प्यारी यादें को उस वीडियो के डालकर उनका  शुक्रिया कर सकते हैं।

-सबसे अच्छा गिफ्ट तो माँ के लिए यह हो सकता है कि आप उनके साथ समय बिताएं। आज के दिन आप पूरा समय अपनी माँ को दें और उनको शॉपिंग पर ले जाएं।

-आप उनके लिए कोई गाना गा सकते हैं या कोई कविता लिख सकते है, उनके लिए कोई ग्रीटिंग कार्ड बना सकते हैं। यह उन्हें जरूर पसंद आएगा।

और भी पढ़ेश्रद्धा से मिलेगी शांति

अब आप हमारे साथ फेसबुक और इंस्टाग्राम पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
0
बहुत अच्छा
0
खुश
0
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

©️2018 JETSYNTHESYS PVT. LTD. ALL RIGHTS RESERVED.